बच्चों के ज्ञान एवं विकास के लिए जागरूकता कार्यक्रम अति आवश्यकः न्यायमूर्ति मलमथ, राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के तहत हुई प्रतियोगिताओं का सम्मान समारोह संपन्न

व्हाट्सएप पर लाइव उत्तरांचल न्यूज के नियमित समाचार प्राप्त करने व हमसे संपर्क करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें
https://chat.whatsapp.com/BhBYO0h8KgnKbhMhr80F5i  


नैनीताल। लाइव उत्तरांचल न्यूज


उत्तराखंड राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के संयोजन में संविधान दिवस के मौके पर चित्रकला, कविता व निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इसका विषय मौलिक कर्तव्य और नागरिकों के कर्तव्य रखा गया था। सभी प्रतियोगिताएं ऑनलाइन हुई। इसका मुख्य उद्देश्य बच्चों में भारतीय संविधान एवं मौलिक कर्तव्यों के प्रति जागरूकता एवं साक्षरता उत्पन्न करना था। 9 से 20 नवंबर के बीच हुई इस प्रतियोगिता में बच्चों ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया।


राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के हाईकोर्ट परिसर मुख्यालय में हुए कार्यक्रम में अव्वल रहे प्रतिभागियों को पुरस्कार वितरित किए गए। मुख्य अतिथि उत्तराखंड हाईकोर्ट के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश व उत्तराखंड राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के कार्यपालक अध्यक्ष न्यायमूर्ति रवि मलिमथ ने उपस्थित अव्वल रहे प्रतिभागियों को पुरस्कार प्रदान किए। न्यायमूर्ति ने इस मौके पर कहा ऐसे जागरूकता कार्यक्रम बच्चों के ज्ञान एवं विकास के लिए अति आवश्यक हैं। इससे बच्चों में राष्ट्रीय एकता, अखंडता, सामंजस्य एवं भाईचारे को लेकर जागरूकता आएगी। इस मौके पर न्यायमूर्ति लोक पाल सिंह भी मौजूद रहे।


प्राधिकरण के सदस्य सचिव आरके खुल्बे ने बताया कि वर्तमान समय में कोविड-19 महामारी को दृष्टिगत रखते हुए नैनीताल जिले के विजेताओं को इस कार्यक्रम में आमंत्रित किया गया। अन्य विजेताओं एवं प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र, ट्राॅफी तथा नकद इनाम संबंधित जिले में उनके निवास स्थान में दिया जायेगा। इसके अलावा अन्य प्रतिभागीगणों को भी प्रमाण पत्र संबन्धित छात्रों के जनपदों में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण कार्यालय के माध्यम से दिये जायेंगे। इस कार्यक्रम की स्पअम Live Streaming Youtube के माध्यम से की गयी। प्रतियोगिता में 90 विद्यालयों के 600 बच्चों ने प्रतिभाग किया। शिक्षकों के एक पैनल ने इसकी जांच की और 18 का चयन किया गया। विजेताओं को प्रमाण पत्र के साथ ट्राॅफी तथा नकद इनाम दिया गया। इसके तहत प्रथम विजेता 5,000 -, द्वितीय 3,000 तथा तृतीय विजेता को 2,000 रूपये का नकद इनाम दिया गया। इस मौके पर हाईकोर्ट के महानिबंधक धनंजय चतुर्वेदी एवं अन्य निबन्धक उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन उत्तराखंड राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के विशेष कार्याधिकारी मौ. यूसुफ ने किया।


इनको मिला पुरस्कारः- कविता लेखनः मिशवाह नाज जीआईसी कासिमपुर हरिद्वार प्रथम, रिया जोशी वियरशिबा सीनियर सेकेंडरी स्कूल हल्द्वानी द्वितीय तथा तृतीय पुरस्कार कोमल बिष्ट एमएलएस बालविद्या मंदिर नैनीताल तृतीय रहे। चित्रकलाः- हिमांशु जोशी जीयूपीएस दीना हल्दूचौड़ हल्द्वानी पहले, हिमानी बिष्ट जवाहर नवोदय विद्यालय रामनगर दूसरे तथा भूमिका जोशी चिल्ड्रन एकेडमी तीसरे स्थान पर रही। निबंध लेखन प्रतियोगिताः- राधिका नौटियाल गणेश दत्त गोस्वामी विद्यालय उत्तरकाशी प्रथम, रेशमा गड़िया जीआईसी तलवाड़ी जिला चमोली दूसरे तथा मानवी नगरकोटी हिमालयन सेंट्रल स्कूल बागेश्वर तीसरे स्थान पर रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: