कुमाऊं विवि के शोध छात्र ने प्रोफेसर पर लगाया उत्पीड़न का आरोप


नैनीताल। लाइव उत्तराँचल न्यूज़

कुमाऊं विवि के डीएसबी परिसर के एक पूर्व छात्र ने कुलाधिपति को शिकायती पत्र भेजकर कॉलेज के सीनियर प्रोफेसर पर उत्पीड़न का आरोप लगाया है। कहा है कि जब उसने शोध छात्रा के साथ विवाह करने से मना किया तो प्रोफेसर ने उसका उत्पीड़न शुरू कर दिया। इस वजह से उसकी पीएचडी पूरी नहीं हो पा रही। वर्ष 2015 से वह पीएचडी नहीं कर पाया है। उसने उक्त प्रोफेसर के साथ ही विवि के तीन पूर्व कुलपतियों तथा एक दूसरे विवि के कुलपति के खिलाफ आपराधिक कार्रवाई करने को लेकर कुलाधिपति व राज्य मानवाधिकार आयोग को पत्र भेजा है। आयोग ने उच्च शिक्षा विभाग को मामले में कार्रवाई करने को कहा है। नानकमत्ता निवासी पूर्व छात्र के अनुसार प्रोफेसर के उत्पीड़न की वजह से वह आत्महत्या की कोशिश तक कर चुका है। इधर पूर्व छात्र के साथ कथित तौर पर बागेश्वर में तैनात प्राध्यापक के साथ बातचीत का ऑडियो भी वायरल हुआ है। जिसमें प्राध्यापक कतिपय विभागों में शोध छात्राओं का यौन उत्पीड़न होने की स्वीकारोक्ति कर रहा है।
एक बार फिर कुमाऊं विवि के डीएसबी परिसर में शोध कार्य विवादों में हैं। पूर्व छात्र का आरोप है कि एक प्रोफेसर द्वारा अर्से से उसका उत्पीड़न किया गया। इस मामले में विवि के कोई अधिकारी व प्राध्यापक टिप्पणी से बच रहे हैं। कुलाधिपति व मानवाधिकार आयोग में शिकायत के साथ ही ऑडियो वायरल होने से विवि की साख पर सवाल उठ रहे हैं।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: