कुमाऊं की ठटवाणी को बड़ा मुकाम, संयुक्त राष्ट्र के माउंटेन पार्टनरशिप की रेसिपी बुक में शामिल


नैनीताल। लाइव उत्तरांचल न्यूज

लाइव उत्तरांचल न्यूज के व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें https://chat.whatsapp.com/H4UHJWGvI8G98MuBffNV80

संयुक्त राष्ट्र की संस्था एफएओ माउंटेन पार्टनरशिप ने अपनी माउंटेन रेसिपी बुक में लोकप्रिय ठटवाणी को स्थान दिया है। एफएओ द्वारा आयोजित अंतरर्राष्ट्रीय माउंटेन डे 2019 प्रतियोगिता के शीर्ष 30 व्यंजनों को पेश किया गया था जिसमें 27 देशों की 70 से अधिक प्रविष्टियाँ आईं थी। नैनीताल के हिमालयी अनुसंधान और विकास संस्थान ‘चिनार’ के अध्यक्ष डा. प्रदीप मेहता द्वारा भेजी गई उत्तराखंड की  रेसिपी (ठटवाणी) को भी टॉप 30 में स्थान मिला है। ठटवाणी पहाड़ की भट, गहत, उड़द आदि पहाड़ी दालों को मिला कर बनाई जाती है। इसको उबालकर इससे दाने अलग कर रस का उपयोग किया जाता है।  हालांकि दाल के दाने बेकार नहीं जाते बल्कि इनका अलग से उपयोग होता है। पहाड़ में गरम तासीर के चलते इसे अधिकांशतः सर्दियों में बनाया जाता है।
 यहां बता दें कि ‘चिनार’ संयुक्त राष्ट्र के माउंटेन पार्टनरशिप का सदस्य है जो हिमालय के सतत विकास के लिए आजीविका, आजीविका, टिकाऊ कृषि,  ग्रामीण पर्यटन, स्वास्थ्य और पर्यावरण शिक्षा के लिए काम कर रहा है। उन्होंने बताया कि संस्थान पर्वतीय क्षेत्रों की परंपरागत खेती को बचाने के लिए भी प्रयासरत है। चिनार संस्थान के समन्वयक घनश्याम कल्कि पांडे ने बताया कि संस्थान द्वारा हिमालय की परंपरागत खेती पर एक सर्वे भी किया गया है जिसे श्रीघ्र ही संयुक्त राष्ट्र की संस्था FAO द्वारा प्रकाशित किया जाएगा। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: