वरिष्ठ भाजपा नेता पूर्व विधायक कृष्ण चंद्र पुनेठा नहीं रहे, कुमाऊं में जनसंघ के आधार स्तम्भ, हिल्ट्रोन के अध्यक्ष रहे

लोहाघाट। लाइव उत्तरांचल न्यूज

व्हाट्सएप पर लाइव उत्तरांचल न्यूज के नियमित समाचार प्राप्त करने व हमसे संपर्क करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें
https://chat.whatsapp.com/BhBYO0h8KgnKbhMhr80F5i

पिथौरागढ़ के दो बार विधायक रहे भाजपा के वरिष्ठ नेता कृष्ण चंद्र पुनेठा का निधन हो गया है। वे महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी की पहल पर मुंबई से कुछ ही दिन पहले इलाज करा कर लौट थे। अपनी ईमानदार छवि के चलते पुनेठा की जनसंघ के पुराने नेताओं में अलग पहचान थी। 1991 व 1996 में पिथौरागढ़ के विधायक रहे। साधारण परिवार से ताल्लुक रखने वाले केसी पुनेठा भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष रहे डा. मुरली मनोहर जोशी, पूर्व सांसद मंत्री बची सिंह रावत के खासे करीबी रहे। उप्र के पूर्व मुख्यमंत्री राज्यपाल रहे कल्याण सिंह से भी उनकी गहरी दोस्ती रही। उत्तराखंड बनने के दौरान अंतरिम विधानसभा के सदस्य रहे पुनेठा को तत्कालीन सीएम नित्यानन्द स्वामी ने हिल्ट्रान के अध्यक्ष की जिम्मेदारी दी थी। उन्हें कैबिनेट स्तर दिया गया था। उन्होंने पिथौरागढ़ जिले में 1990 में भाजपा जिलाध्यक्ष का दायित्व भी संभाला था। राममंदिर आंदोलन में जेल भी गए। पुनेठा एक राजनेता के साथ ही खासा प्रशासनिक अनुभव भी रखते थे। यही कारण था कि उनके चीफ सेकेट्री रहे डा. आरएस टोलिया, एम.रामचंद्रन, राकेश शर्मा एसके दास के अलावा एसके माहेश्वरी, अमरेंद्र सिन्हा के साथ बेहतर रिश्ते रहे। राज्यपाल कोश्यारी से भी उनके पारिवारिक रिश्ते रहे। यही कारण है कि कोश्यारी ने उनको इलाज के लिए हेलीकॉप्टर भेज कर मुंबई बुलाया था। स्वास्थ्य में सुधार होने पर घर आये थे। लेकिन अचानक तबियत खराब होने के बाद उन्होंने अंतिम सांस ली। उनके निधन पर बड़ी तादात में नेताओं व आम लोगों ने गहरा शोक व्यक्त किया है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: