मंगलदीप विद्या मंदिर के लिए डीएम नितिन भदौरिया की विशेष पहल, भूमि चिन्हित करने के लिए मातहतों को 30 नवंबर तक का समय दिया


व्हाट्सएप पर लाइव उत्तरांचल न्यूज के नियमित समाचार प्राप्त करने व हमसे संपर्क करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें
https://chat.whatsapp.com/BhBYO0h8KgnKbhMhr80F5i


अल्मोड़ा। लाइव उत्तरांचल न्यूज


जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया ने खत्याड़ी में मानसिक तौर पर दिव्यांग बच्चों के लिए चल रहे मंगलदीप विद्या मंदिर को सुविधा जनक बनाने के लिए विशेष पहल की है। उन्होंने इसके लिए भवन आदि संसाधनों के लिए लोगों से सहयोग लिया है। वहीं राजस्व विभाग के मातहत अधिकारियों से खत्याड़ी के आसपास इसके लिए भूमि चिन्हित करने के निर्देश देते हुए इस कार्य के लिए 30 नवंबर तक की समय सीमा तय की है। डीएम ने गुरूवार को अपने कैंप कार्यालय में इस मामले में संबंधित अधिकारियों व विद्यालय प्रतिनिधि के साथ बैठक की।


बैठक में डीएम ने कहा कि मनोरमा जोशी अपने निजी प्रयासों से मंगलदीप विद्या मंदिर संचालन कर रही हैं। समाज के लिए किए जा रहे इस नेक कार्य के सहायतार्थ फंड एकत्रित किया गया है। उन्होंने कहा कि जिला स्तर पर चले इस अभियान से प्राप्त धनराशि व अन्य सहयोग से विद्यालय के लिए भूमि क्रय की जायेगी। डीएम ने कहा कि भूमि सरकारी होने पर उसे विद्यालय के हित में देखते हुए हस्तांतरित किया जाएगा।


डीएम ने उपजिलाधिकारी व तहसीलदार को 30 नवंबर तक खत्याड़ी के आसपास भूमि चिन्हित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि भूमि उपलब्ध होने के बाद उस स्थल पर विद्यालय भवन व अन्य अवस्थापना कार्यों किए जाएंगे। इसमें एनजीओ आदि का सहयोग लिया जायेगा। बैठक में उपस्थित हंस फाउण्डेशन के प्रतिनिधियों ने भी विद्यालय के भवन आदि के लिए पूर्ण सहयोग का आश्वासन दिया।
जिलाधिकारी ने कहा कि हमारा प्रयास रहेगा कि जल्दी से जल्दी विद्यालय के लिए भूमि का चयन करते हुए विद्यालय भवन निर्माण में मंगलदीप समिति का सहयोग किया जा सके। उन्होंने कहा कि वर्तमान में दिव्यांग बच्चों के लिए बने विद्यालय की पहुॅच काफी खराब है। जिससे बच्चों को आने-जाने में परेशानी हो रही है।
बैठक में उपजिलाधिकारी सीमा विश्वकर्मा, डिप्टी कलेक्टर गौरव पाण्डे, तहसीलदार संजय कुमार, मुख्य प्रशासनिक अधिकारी मनोहर लाल, मंगलदीप विद्यालय से रंजन जोशी, हंस फाउण्डेशन के राजेश सिंह आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: