“एकता और अनुशासन” है एनसीसी का आदर्श वाक्य: प्रो. एनके जोशी, कुमाऊं विवि के कुलपति ने एनसीसी दिवस पर कैडेट्स को शुभकामनाएं दी

व्हाट्सएप पर लाइव उत्तरांचल न्यूज के नियमित समाचार प्राप्त करने व हमसे संपर्क करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें https://chat.whatsapp.com/BhBYO0h8KgnKbhMhr80F5i

नैनीताल। लाइव उत्तरांचल न्यूज

कुमाऊं विश्वविद्यालय के डीएसबी परिसर नैनीताल के नेवल एनसीसी कैडेट्स ने रविवार को एनसीसी दिवस मनाया। कोविड-19 के चलते इसका ऑनलाइन आयोजन किया गया। विवि के कुलपति प्रो. एनके जोशी ने इस मौके पर कैडेट्स को शुभकामनाएं दी। प्रो. जोशी ने कहा कि राष्ट्रीय कैडिट कोर (एनसीसी) का आदर्श वाक्य “एकता और अनुशासन” है। एनसीसी के कैडेट्स इसी जज्बे से देश सेवा की भावना से ओतप्रोत होकर राष्ट्र के प्रति अपना सर्वस्व समर्पण के लिए तैयार रहते हैं। इसी को देखते हुए एनसीसी को देश की सेकंड लाइन ऑफ डिफेंस भी कहा जाता है।


एसीसी अधिकारी सब लेफ्टिनेंट डॉ.  रीतेश साह ने एनसीसी डे की पृष्ठभूमि पर विस्तृत प्रकाश डाला। उन्होंने बताया गया हर वर्ष नवंबर माह के चौथे रविवार को राष्ट्रीय कैडेट कोर (एनसीसी) दिवस मनाया जाता है। देश मेें राष्ट्रीय कैडेट कोर अधिनियम 15 जुलाई 1948 के तहत इसका गठन किया गया था। भारत के पहले प्रधान मंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू ने एनसीसी की पहली इकाई के गठन के लिए दिल्ली में हुए समारोह की अध्यक्षता की थी। इसका आयोजन साल 1948 में नवंबर माह के आखिरी रविवार को हुआ था। इसके बाद से हर साल के नवंबर माह के चौथे रविवार को राष्ट्रीय कैडेट कोर (एऩसीसी) दिवस मनाया जाता है। इस अवसर पर परिसर के नेवल कैडेट्स द्वारा वीडियो पोस्टर कविताएं तथा लेख प्रस्तुत किए गए। इसमें एनसीसी से हासिल होने वाले लाभ के अलावा एनसीसी के इतिहास, एनसीसी दिवस का इतिहास, एनसीसी से जुड़े उनके अनुभव आदि को ऑनलाइन माध्यम से प्रस्तुत किया गया। एनसीसी दिवस पर कमांडिंग अफसर कमांडर डीके सिंह, डीएसबी परिसर के निदेशक प्रो. एलएम जोशी, अधिष्ठाता छात्र कल्याण प्रो. डीएस बिष्ट , चीफ प्रॉक्टर प्रो. नीता बोरा शर्मा, कुलसचिव खेमराज भट्ट, परीक्षा नियंत्रक प्रो. एचसीएस बिष्ट, निदेशक डीआईसी प्रो. संजय पंत व निदेशक शोध प्रो. ललित तिवारी ने भी एनसीसी दिवस पर शुभकामनाएं प्रदान की।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: